Monday, February 26, 2024
Newspaper and Magzine


सात वर्षीय मासूम बच्ची की हत्या के आरोपियों की सूचना देने पर रखा 2 लाख रूपए का ईनाम।

By LALIT SHARMA , in Crime in Panipat , at December 19, 2021 Tags: , , , , , ,

आरोपियों की सूचना देने वाले की पहचान पूर्ण रूप से गुप्त रखी जाएगी :- पुलिस अधीक्षक श्री शशांक कुमार सावन।

BOL PANIPAT : 19 दिसम्बर 2021, पुलिस अधीक्षक श्री शशांक कुमार सावन ने सात वर्षीय मासूम बच्ची की हत्या के मामलें को शुरू से ही गम्भीरता से लिया हुआ है। आरोपियों की पहचान करने के लिए लगाई गई सभी पुलिस टीमों से स्वयं पल पल की जानकारी ले रहे है। पुलिस अधीक्षक श्री शशांक कुमार सावन ने रविवार को थाना समालखा में सभी अधिकारियों व टीम इंचार्जो के साथ मिटींग कर आरोपियों की पहचान करने के लिए किए गए प्रयासों की समीक्षा कर आरोपियों की सूचना देने पर रखी गई 50हजार की ईनाम राशि को बढाकर 2लाख रूपए किया। साथ ही वारदात स्थल का दौबारा से निरीक्षण कर अधिकारीयों व टीम इंचार्जों को आवश्यक निर्देश दिए।

पुलिस अधीक्षक श्री शशांक कुमार सावन ने आरोपियों को जल्द से जल्द पकड़ने के लिए ईनाम राशि बढाने के साथ ही सहायक पुलिस अधीक्षक श्रीमति पूजा वशिष्ट के नेतृत्व में एसआईटी गठित कर जिसमें महिला विरूध अपराध डीएसपी श्री प्रदीप कुमार, तीनों सीआईए इंचार्ज, समालखा थाना प्रभारी इंस्पेक्टर नरेंद्र व फॉरेंसिक टीम इंचार्ज डाॅ नीलम आर्य को शामिल किया गया है।

समालखा के मनाना गांव में गत रविवार को भंडारे से लापता हुई सात वर्षीय मासूम बच्ची का मंगलवार को गांव के ही पावर हाउस के सामने झाड़ियों में शव मिला था। सूचना मिलते ही पुलिस अधीक्षक श्री शशांक कुमार सावन ने तुरंत मौके पर पहुंच वारदात स्थल का निरिक्षण कर मामलें को गम्भीरता लेते हुए आरोपितों की सूचना देने पर 50 हजार रूपए का ईनाम रखने के साथ ही सीआईए की तीनों टीमों के अतिरिक्त कई टीमें गठित कर आरोपियों की तलाश में लगा दी गई थी। पुलिस की सभी टीमें विभिन्न पहलुओं पर जांच करते हुए आरोपियों की पहचान करने के लिए सघन पर्यासरत है।

थाना समालखा में मनाना निवासी युवक ने अपनी सात वर्षीय बच्ची के गुमशुदा होने बारे गत सोमवार को शिकायत देकर बताया था की गांव के कंडी माता मंदिर में रविवार को मूर्ति स्थापना कार्यक्रम था। जिसमें वह अपने परिवार के साथ गया था और सात वर्षीय बच्ची भी साथ थी। कुछ देर बाद वो वापिस आ गए। लेकिन उसकी बच्ची वापिस नहीं आई। उन्होंने सोचा कि वह अन्य बच्चों के साथ होगी। लेकिन शाम चार बजे तक भी वापिस नहीं आई तो बच्ची की विभिन्न स्थानों पर तलाश की गई परंतु अभी तक कही नही मिली। थाना समालखा पुलिस ने तुरंत मुकदमा दर्ज कर बच्ची की तलाश शुरू कर दी गई थी। मामला पुलिस अधीक्षक श्री शशांक कुमार सावन के संज्ञान में आते ही उन्होंने थाना समालखा पुलिस के अतिरिक्त सीआईए-वन टीम को बच्ची को तलाशने की जिम्मेवारी सौंपी थी।

आरोपियों की सूचना देने वाले की पहचान पूर्ण रूप से गुप्त रखी जाएगी जिला पुलिस के निम्न फोन नंबरों पर आरोपियों बारे सूचना दें :-

ASP श्रीमति पूजा वशिष्ट- 7419600116
DSP श्री प्रदीप कुमार- 7056000106
SHO. SMK- इंस्पेक्टर नरेन्द्र- 7056000120
CIA-1 इंचार्ज इंस्पेक्टर राजपाल- 7056000111
CIA-2 इंचार्ज इंस्पेक्टर वीरेंद्र- 7056000112
CIA-3 इंचार्ज इंस्पेक्टर अनिल छिल्लर-7056000402

Comments