Friday, July 19, 2024
Newspaper and Magzine


मासूम बच्ची से शारीरिक छेड़छाड़ करने वाला आरोपित चाचा गिरफ्तार।

By LALIT SHARMA , in Crime in Panipat , at January 27, 2022 Tags: , , , , ,

BOL PANIPAT : 27 जनवरी 2022, मासूम बच्ची से शारीरिक छेड़छाड़ करने वाला आरोपित चाचा गिरफ्तार। महिला थाना प्रभारी इंस्पेक्टर सुनीता ने प्रकरण की जानकारी देते हुए बताया की मासूम बच्ची से शारीरिक छेड़छाड़ करने वाले आरोपित चाचा को महिला थाना पुलिस की टीम ने शिकायत मिलते ही काबू किया। पुलिस टीम ने गिरफ्तार आरोपित को बुधवार को माननीय न्यायलय में पेश किया वहा से आरोपित को न्यायिक हिरासत जेल भेजा गया।

इंस्पेक्टर सुनीता ने बताया की मंगलवार को पानीपत क्षेत्र निवासी पीड़ित मासूम बच्ची की मां ने महिला थाना में शिकायत देकर बताया था की उसकी दो बेटी है। वही पड़ोस में बच्चियों के दादा दादी पिछले करीब 6/7 महिने से रहते है। बेटी दादा दादी के पास अक्सर जाती रहती है। मंगलवार को 5 वर्षीय बड़ी बेटी ने घर आकर उसको बताया की छोटे पापा (चाचा) ने कई बार उसके गुप्तांगों को हाथ लगाया। इंस्पेक्टर सुनीता ने बताया उन्होने उक्त मामला तुरंत पुलिस अधीक्षक शशांक कुमार सावन व महिला थाना की पर्यवेक्षण अधिकारी अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक पूजा वशिष्ट के संज्ञान में लाकर आदेशानुसार सीडब्लूसी के अधिकारियों से बच्ची की काउंसलिग करवाने के साथ ही महिला की शिकायत पर तुरंत महिला थाना में आरोपित चाचा के खिलाफ 6 पोक्सो एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर कानूनी कार्रवाही अमल में लाई गई व आरोपित चाचा को गिरफ्तार किया गया। पुलिस पुछताछ उपरांत आरोपित को बुधवार को माननीय न्यायलय में पेश कर न्यायिक हिरासत जेल भेजा गया।

छोटे बच्चो का रखे विशेष ध्यान : इंस्पेक्टर सुनीता

महिला थाना प्रभारी इंस्पेक्टर सुनीता ने कहा की छोटे बच्चो का बाहर के अलावा घर पर व आस पड़ोस में भी विशेष ध्यान रखे। घर पर आने जाने वाले परिचितों और रिश्तेदारों पर भी नजर रखें, किसी पर भी आँखें बंद करके भरोसा न करें। घर पर आने जाने वाले लोग गलत न हों, नशा करने वाले न हो चाहे वो आपके कितने भी करीबी रिश्तेदार हों, उनसे भी उचित दूरी रखें। संयुक्त परिवार में हैं तो भी बच्चों पर माता-पिता विशेष ध्यान दें। एकल परिवार में रहना मजबूरी है और पति-पत्नी दोनों जॉब कर रहें हों तो जब तक बच्चे छोटे हैं दादा-दादी या नाना-नानी या किसी विश्वसनीय रिश्तेदार को साथ रखें, आया के भरोसे बच्चों को न छोड़ें। ये हर अभिभावक को ध्यान में रखना चाहिए कि बच्चे सही गलत का फर्क नहीं जान सकते हैं पर आप समझ सकते हैं इसलिए सतर्क रहें और बच्चों की सुरक्षा का ध्यान रखें। अभिभावक बच्चो को गुड टच व बेड टच के बारे में विस्तार से जानकारी दे।

Comments