Wednesday, June 12, 2024
Newspaper and Magzine


एलएनटी कंपनी के आरसीएम अबूताहिर को अगवा करने के मामले में फरार चल रहे एक और आरोपित को पुलिस ने काबू किया।

By LALIT SHARMA , in Crime in Panipat , at December 11, 2021 Tags: , , , , ,

BOL PANIPAT : 11 दिसम्बर 2021, एलएनटी कंपनी के आरसीएम अबूताहिर को अगवा करने के मामलें में फरार चल रहे एक और आरोपित को पुलिस ने काबू किया। सीआईए-थ्री प्रभारी इंस्पेक्टर अनिल छिल्लर ने प्रकरण की विस्तार से जानकारी देते हुए बताया जुलाई 2020 में पानीपत इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन लिमिटेड (आईओसीएल) में कंस्ट्रक्शन का काम कर रही एलएनटी कंपनी के आरसीएम मैनेजर अबूताहिर का अपहर्ण कर आरोपियों ने मारपीट करने, कंपनी मे गाड़ी लगवाने व एक लाख रूपये प्रति माह रंगदारी मांगने की वारदात को अंजाम दिया था।

वारदात के संबंध में अबूताहिर की शिकायत पर थाना मतलौडा में भा0द0 सहिता के अंतर्गत अपहर्ण, रंगदारी व मारपीट की विभिन्न धाराओं सहित आर्म्स एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर कानूनी कार्रवाही अमल मे लाई गई थी। उक्त वारदात के संबंध मे कार्रवाई करते हुए सीआईए-थ्री पुलिस टीम द्वारा गिरोह के सरगना सहित अब तक 37 आरोपितों को गिरफ्तार किया जा चुका था।

वारदात में संलिप्त रहा आरोपित विकाश उर्फ विक्की पुत्र राजेश निवासी चिटाना सोनीपत फरार चल रहा था। आरोपित को पकड़ने के लिए सीआईए-थ्री पुलिस की टीम आरोपित के संभावित ठिकानों पर दंबिस दे रही थी आरोपित पुलिस पकड़ से बचने के लिए ठिकाने बलद-बदल कर रह रहा था। सीआईए-थ्री पुलिस की टीम ने गुप्त सूचना के आधार पर दंबिस देते हुए शुक्रवार को आरोपित विकाश उर्फ विक्का को काबू करने में कामयाबी हासिल की।

इंस्पेक्ट अनिल छिल्लर ने बताया गिरफ्तार आरोपित विकाश उर्फ विक्का को आज माननीय न्यायालय में पेश कर न्यायिक हिरासत जेल भेजा गया।

वारदात का विवरण :-

आरोपित व उसके अन्य साथियो ने जुलाई 2020 में योजना बनाकर पानीपत इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन लिमिटेड (आईओसीएल) में कंस्ट्रक्शन का काम कर रही एलएनटी कंपनी के आरसीएम मैनेजर अबूताहिर का अपहर्ण कर गांव बाल जाटान निवासी सतपाल राठी के मुर्गीफार्म पर ले गये । वहां पर मैनेजर अबूताहिर को बंदी बनाकर रखा उसके साथ मारपीट करने के साथ ही हर महीने 1 लाख रुपए मंथली की डिमांड की। इसके अतिरिक्त स्-ज् कंपनी अपनी टर्म एंड कंडीशन पर गाड़ियों को रेंट पर लेती है आरोपियों ने अपनी गाड़ी कंपनी में लगवाने के लिए दबाव डाला और ऐसा न करने पर जान से मारने की धमकी दी। मूकदमे में वारदात के मास्टर माइंड सतपाल राठी सहित 37 आरोपितों को अब तक सीआईए-थ्री पुलिस द्वारा गिरफ्तार कर अदालत में पेश किया जा चुका है।

Comments