Friday, July 19, 2024
Newspaper and Magzine


हत्या के मामले में फरार चल रहे और एक आरोपी को किया गिरफ्तार.

By LALIT SHARMA , in Crime in Panipat , at April 22, 2022 Tags: , , , , ,

BOL PANIPAT : 22 अप्रैल 2022, सतनाम की हत्या के मामले में फरार चल रहे और एक आरोपी को थाना समालखा पुलिस ने किया गिरफ्तार. समालखा थाना प्रभारी इंस्पेक्टर नरेंद्र ने बताया धर्मगढ़ निवासी 35 वर्षीय सतनाम पुत्र दर्शन सिंह की हत्या की वारदात में नामजद फरार चल रहे आरोपी कर्मबीर पुत्र कर्ण सिंह निवासी जौरासी खास को थाना समालखा पुलिस ने वीरवार साय गुप्त सूचना पर दंबिस देकर गांव जौरासी खास में खेल स्टेडियम के पास से गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल की है। आरोपी को पकड़े के लिए पुलिस टीम लगातार उसके संभावित ठिकानों पर दंबिस दे रही थी। पुलिस टीम ने आरोपी कर्मबीर को आज माननीय न्यायालय में पेश कर गहनता से पुछताछ करने, वारदात में प्रयोग किये डंडे बरामद करने व फरार आरोपियों के ठिकानों का पता लगाने के लिए आरोपी को माननीय न्यायालय से 3 दिन के पुलिस रिमांड पर लिया।

मामले में संलिप्त आरोपी मनीष पुत्र बलवान निवासी समालखा व मनोज पुत्र हरिशचंद्र निवासी पावटी को पहले ही गिरफ्तार कर वारदात में प्रयोग किया डंडा बरामद कर दोनो आरोपियों को न्यायिक हिरासत जेल भेजा जा चुका है।हत्या की उक्त वारदात बारे मृतक सतनाम के भाई रमेश पुत्र दर्शन सिंह निवासी धर्मगढ़ की शिकायत पर थाना समालखा में मुकदमा दर्ज है.

रमेश निवासी धर्मगढ़ ने थाना समालखा पुलिस को दी शिकायत में बताया था की वह चार भाई है। बड़ा भाई सतनाम जेसीबी मशीन से मिट्टी उठाने का काम करता है। सतनाम ने मनोज पुत्र हरिसिंह निवासी पावटी को शेरा गांव में मिट्टी दिलवाई थी। जिसके मनोज में पैसे बकाया थे। सतनाम जब भी मनोज से मिट्टी के बकाया पैसे मांगता मनोज धमकी देता था। एक दिन मनोज हमारे घर पर भी आकर पैसे मागने के कारण सबको जान से मारने की धमकी देकर गया। 15 अप्रैल को दोपहर करीब 11 बजे मनीष पुत्र बलवान निवासी समालखा मनोज के साथ हिसाब किताब करवाने की बात बोलकर सतनाम को अपने साथ समालखा ले गया। देर साय सतनाम के साले रवि के साथ सतनाम की फोन पर बात हुई तो सतनाम ने बताया मनोज निवासी पावटी, मनीष निवासी समालखा व कर्मबीर निवासी जौरासी उसको गाड़ी में लेकर समालखा में इधर उधर घूम रहे है। रवि से बात होने के तुरंत बाद उसने भाई सतनाम को फोन किया तो उसका फोन बंद मिला। वह भाइयों को साथ लेकर सतनाम की तलाश में समालखा आ गया। वहा पर प्रवीन पुत्र सुरेंद्र व सोनू पुत्र सतपाल निवासी समालखा मिले तो प्रवीन ने उनको बताया सतनाम का उसके पास भी फोन आया था। वहा से सभी मिलकर सतनाम की तलाश करते हुए जौरासी गांव के खेतों में पहुंचे वहा पर मनोज, कर्मबीर, मनीष व अन्य दो युवक सतनाम को गाड़ी में डालकर भाग लिए। उन्होने आरोपियों की गाड़ी का पीछा किया तो आरोपी भापरा रोड पर हनुमान मंदिर के पास सतनाम को कार में छोड़कर फरार हो गए। सतनाम को सिविल अस्पताल लेकर गए, जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। रमेश ने शिकायत में बताया कि मनोज कर्मबीर मनीष व दो अन्य लड़को ने साजिश के तहत पीट पीट कर सतनाम की हत्या की है।
समालखा थाना में रमेश की शिकायत पर वारदात में नामजद व अन्य आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 149,149,302,506 के तहत मुकदमा दर्ज कर पुलिस टीम ने आरोपियों की धरपकड़ के प्रयास शुरू कर दिए थे।

Comments