Saturday, June 15, 2024
Newspaper and Magzine


तकनीक के जमाने में ज्यादा सावधान रहकर व जागरुकता अपनाकर साइबर ठगी होने से बचे

By LALIT SHARMA , in Crime in Panipat , at December 11, 2021 Tags: , , , , , ,

साइबर अपराध घटित होने पर तुरंत नेशनल साइबर क्राइम पोर्टल https://www.cybercrime.gov.in पर या फिर हेल्प लाइन नंबर 155260 या नजदीक पुलिस थाना में शिकायत दर्ज करवाए।

BOL PANIPAT : 11 दिसम्बर 2021,तकनीक के जमाने में ज्यादा सावधान रहकर व जागरुकता अपनाकर साइबर ठगी होने से बचे, साइबर अपराध घटित होने पर तुरंत नेशनल साइबर क्राइम पोर्टल https://www.cybercrime.gov.in पर या फिर हेल्प लाइन नंबर 155260 या नजदीक पुलिस थाना में शिकायत दर्ज करवाए।

पुलिस अधीक्षक श्री शशांक कुमार सावन ने स्मार्ट उपकरण पर होने वाले साइबर अपराध से बचने के लिये आवश्यक जानकारी देते हुए बताया कि आम नागरिक अपने स्मार्ट उपकरण जैसे:- स्मार्ट फोन, कंप्यूटर आदि की डिफॉल्ट फैक्ट्री सेटिंग बदलकर व एक मजबूत पासवर्ड का प्रयोग करके खुद को साइबर अपराध का शिकार होने से बचा सकते है।

उन्होंने कहा कि आज के इंटरनेट युग की दुनिया में हर व्यक्ति कम्पयूटर व मोबाइल फोन से जुड़ा हुआ है। नौकरी व पढाई भी मोबाईल व कम्पयूटर तकनीकी जैसे संसाधनों से जुड़ गई है। इंटरनेट दुनिया में कुछ लोग ऑनलाइन साइबर क्राइम को अंजाम देते है। जिससे हमें सावधान व सुरक्षित रहने की जरूरत है तथा लोगों को अपने मोबाइल व कम्पयूटर सॉफ्टवेयर को समय-2 पर अपडेट करते रहना चाहिए जिससे उस फोन व कम्पयूटर सॉफ्टवेयर की क्षमता बढ जाती है। इसके अतिरिक्त साइबर अपराध के संबंध में निम्नलिखित निर्देशित दिशा-निर्देशों को अपनाकर साइबर ठगी से बचा जा सकता है।

  1. ओलक्स या अन्य ऑनलाइन शॉपिंग ऐप पर सामान खरीदते व बेचते समय रिक्वेस्ट मनी लिंक का इस्तेमाल न करे।
  2. ऑनलाइन शॉपिंग ऐप पर खरीदारी करते समय प्राप्त होने वाले कोरियर स्लिप व बिल्टी वगैरा की जांच संबंधित कोरियर कम्पनी से अवश्य करे।
  3. ए.टी.एम मशीन से पैसे निकालते या जमा करते समय किसी अनजान व्यक्ति से सहायता न ले।
  4. बिना गार्ड वाले ए.टी.एम मशीन को इस्तेमाल करने से बचे ए.टी.एम पिन को हाथ से छुपाकर डाले।
  5. ए.टी.एम पिन को समय-2 पर बदलते रहना चाहिये।
  6. फेसबुक/मैसेंजर/व्हाट्सएप आदि सोशल अकाउंट का पासवर्ड समय-2 पर बदले।
  7. फेसबुक/मैसेंजर/व्हाट्सएप/ई वॉलेट (पे एटीएम, फोन पे, गूगल पे) आदि ऐप को निर्धारित समयानुसार अपडेट करना आवश्यक है जिससे ठगी से बचा जा सकता है।
  8. फेसबुक/मैसेंजर/व्हाट्सएप आदि सोशल अकाउंट के माध्यम से पैसो की मांग पर भरोसा न करे, फोन करके या मिलकर कन्फर्म अवश्य करे।
  9. गूगल पर सर्च किये गये कस्टमर केयर के नंबर का इस्तेमाल ना करे, धोखा हो सकता है।
  10. आमतौर पर कई लोग अपने पासवर्ड नाम, मोबाईल नंबर से, 000 से या 1234 आदि से बना लेते है। ऐसे पासवर्ड न बनाये। अपना पासवर्ड मजबूत बनाये जिसमें छोटे बड़े अक्षरों, गिनती, स्पेशल कैरेक्टर जैसे * @ # आदि का प्रयोग करे।

पुलिस अधीक्षक श्री शशांक कुमार सावन ने कहा कि जिला पुलिस के द्वारा साइबर अपराधों से बचने हेतु कंप्यूटर, डिवाइस को हैक होने से बचाने हेतु, सोशल मीडिया अकाउंट व बैंक अकाउंट को सुरक्षित रखने के बारे में समय-2 पर आम लोगों को जागरूक किया जायेगा और यदि किसी व्यक्ति के साथ किसी भी प्रकार का साइबर अपराध घटित हो जाता है तो इसकी शिकायत नेशनल साइबर क्राइम पोर्टल https://www.cybercrime.gov.in पर या फिर हेल्प लाइन नंबर 155260 या नजदीक पुलिस थाना में शिकायत दर्ज करवाए।

Comments