Wednesday, June 12, 2024
Newspaper and Magzine


खेल नर्सरियां निजी शिक्षण संस्थानों / निजी खेल संस्थानों/ निजी खेल अकादमियों/निजी खेल प्रशिक्षण केन्द्र में चलाने का निर्णय

By LALIT SHARMA , in DIPRO PANIPAT PRESS RELEASE SPORTS , at December 23, 2021 Tags: ,

पानीपत, 23 दिसम्बर। जिला खेल एवं युवा कार्यक्रम अधिकारी प्रदीप पालीवाल ने बताया कि खेल एवं युवा कार्यक्रम विभाग द्वारा हरियाणा राज्य में लगभग 600 खेल नर्सरियां चलाई जानी है। यह खेल नर्सरियां निजी शिक्षण संस्थानों तथा निजी खेल संस्थानों, निजी खेल अकादमियों, निजी खेल प्रशिक्षण केन्द्र में चलाने का निर्णय लिया गया है।
प्रदीप पालीवाल ने बताया कि इच्छुक संस्थाओं के मुखिया एवं प्रधानाचार्य खेल नर्सरी लेने हेतु प्रारूपएवं गाईडलाईन्स विभागीय वैबसाईट डब्ल्यूडब्ल्यूडब्ल्यूडॉटएचएआरवाईएएनस्वोर्टसडॉटजीओवीडॉटइन से प्राप्त कर सकते हैं .

आवेदन पत्र भरकर किसी भी कार्य दिवस में 20 जनवरी तक प्रात: 9 बजे से सांय 5 बजे तक जिला खेल कार्यालय शिवाजी स्टेडियम में जमा करवा सकते हैं।
जिला खेल एवं युवा कार्यक्रम अधिकारी प्रदीप पालीवाल ने आवेदन करने वाली इच्छुक संस्थाओं के लिए नियम एवं शर्तो के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि कम से कम सैकण्डरी स्तर की शैक्षिणिक सुविधा होनी अनिवार्य है, जिस खेल नर्सरी के लिए आवेदन कर रहे हैं उसके लिए खेल मैदान, खेल उपकरण तथा वहां के खिलाडिय़ों की खेल उपलब्धियों के अनुसार आवेदन कर सकते हैं, चयनित 25 विद्यार्थियेां की पढाई का प्रबंध सम्बंधित शिक्षण संस्थाओं में नि:शुल्क देना होगा.

जहां खेल नर्सरी स्थापित होगी, प्रत्येक नर्सरी का कार्यकाल 1 अप्रैल से लेकर 31 जनवरी तक रहेगा, खेल नर्सरी केवल उन्हीं खेलों की दी जाएगी जो ओलम्पिक, एशियन तथा कॉमनवैल्थ खेलों में शामिल है, खेल नर्सरी आबंटित संस्थान, जिला खेल एवं युवा कार्यक्रम अधिकारी की निगरानी में खेल नर्सरी में 8 से 19 आयुवर्ग के खिलाडिय़ों के चयन हेतु खेल और शारीरिक योग्यता परीक्षा/खेल परीक्षा आयोजित करेगा, प्रत्येक खेल नर्सरी में न्यून्तम 20 तथा अधिकतम 25 खिलाड़ी होंगे, साथ ही प्रतीक्षा सूची में 5 खिलाड़ी रखे जाएंगे। यदि नर्सरी में 20 से कम खिलाड़ी है तो नर्सरी को बन्द कर दिया जाएगा।

प्रशिक्षक द्वारा ली जाने वाले अवकाश की सूचना शिक्षण संस्था द्वारा इस कार्यालय में उसी दिन देनी अनिवार्य होगी। एक संस्था में दो से अधिक खेल नर्सरियां आबंटित नही की जाएगी, नर्सरी में रखे गए प्रशिक्षक द्वारा मास में 1 से अधिक छूट्टी की जाती है तो उसका वेतन काटा जाएगा तथा 10 दिनों से अधिक छुट्टी करने पर पूरे मास का वेतन नही दिया जाएगा, खेल नर्सरी का समय विभागीय निर्देशानुसार प्रातकाल 5:30 से 9 के मध्य तथा सांयकाल 3 बजे से 8 के मध्यम रखा जाएगा तथा उसी दौरान प्रशिक्षण देना होगा

नर्सरी में प्रशिक्षक का चयन शिक्षण संस्था द्वारा किया जाएगा तथा उसके दस्तावेजों एवं खेल प्रमाण पत्रों की जांच खेल कार्यालय द्वारा की जाएगी। अधिक जानकारी के लिए मॉडल टाऊन स्थित जिला खेल कार्यालय शिवाजी स्टेडियम में संपर्क कर सकते हैं।

Comments