Friday, March 1, 2024
Newspaper and Magzine


औद्योगिक संगठनों की ओर से रखी गई समस्याओं के प्रति जिला प्रशासन संवेदनशील: उपायुक्त सुशील सारवान

By LALIT SHARMA , in Business DIPRO PANIPAT PRESS RELEASE , at December 30, 2021 Tags: , , , ,

-मूलभूत सुविधाओं से नही रहने दिया जाएगा वंचित

BOL PANIPAT , 30 दिसंबर। जिला पानीपत के औद्योगिक संस्थानों में औद्योगिक विकास को प्राथमिकता देने के लिए अधिकारियों द्वारा कोई भी लेट लतीफी नही की जाएगी इसके लिए डीसी सुशील सारवान ने संज्ञान लेते हुए प्रत्येक सप्ताह इससे सम्बंधित बैठक रखने के निर्देश दिए हैं। यही नही सम्बंधित अधिकारियों को पिछली बैठक में लिए गए दिशानिर्देशों की पालना रिपोर्ट भी प्रत्येक सप्ताह लानी होगी।

डीसी सुशील सारवान ने वीरवार को लघु सचिवालय में डीएलसीसी और डीएलजीसी की बैठक की अध्यक्षता करते हुए सभी अधिकारियों को सख्त आदेश दिए कि उद्योग जगत से जुड़े लोगों की समस्याएं त्वरित रूप से हल की जाएगी और वे किए गए कार्यो का औचक निरीक्षण भी करेंगे। यही नही सम्बंधित अधिकारी किए गए काम के बाद उसका फोटो भी उपायुक्त को भेजना सुनिश्चित करेंगे। जिला उद्योग केन्द्र की सहायक निदेशक क्षितिज कपूर ने बैठक का एजेण्डा प्रस्तुत किया। बैठक में सीईओ जिला परिषद विवेक चौधरी, सीटीएम रविन्द्र मलिक सहित सभी सम्बंधित विभागों के अधिकारी उपस्थित थे। बैठक में औद्योगिक संगठनों की ओर से विष्णु गोयल, श्री भगवान अग्रवाल और संजीव गर्ग ने भी अनेक सुझाव दिए।

उन्होंने कहा कि औद्योगिक विकास हरियाणा सरकार की मुख्य प्राथमिकता है, इसलिए सभी अधिकारी यह सुनिश्चित करें कि पोर्टल पर जो भी समस्याएं आती है उनका समाधान त्वरित रूप से हो। प्राय: देखने में आया है कि सम्बंधित विभाग एक दूसरे पर काम को डालते हैं, यह एक संयुक्त प्रयास होना चाहिए जिसमें टीम वर्क जरूरी है। उन्होंने विभिन्न औद्योगिक संगठनों की ओर से रखी गई मांगों जिनमें सैक्टर 29 में सडक़ो के पैच वर्क और अन्य छोटे कामों से सम्बंधित मांगे थी, कहा कि जिला प्रशासन औद्योगिक संगठनों की समस्याओं के प्रति संवेदनशील है। इसलिए वे व्यक्तिगत रूचि लेकर इन कामों को करवाएंगे।

डीसी सुशील सारवान ने औद्योगिक विकास से सम्बन्धित सभी विभागों के अधिकारियों को कड़े निर्देश दिए कि वे किसी भी फाईल को लम्बे समय तक विचाराधीन न रखें। फाईलों को तेजी से रिजेक्ट या सलैक्ट किया जाए। जिला प्रशासन लापरवाही या कोतही बर्दाश्त नहीं करेगा।

Comments