Wednesday, June 12, 2024
Newspaper and Magzine


आर्य महाविद्यालय में एन.सी.सी. शिविर के पांचवे दिन सिखाए गए फायर सेफ्टी गुरु

By LALIT SHARMA , in EDUCATIONAL , at December 28, 2021 Tags: , , , ,

BOL PANIPAT : 28 दिसंबर 2021, आर्य महाविद्यालय के प्रांगण में आज हरियाणा  बटालियन एन.सी.सी. सोनीपत के द्वारा लगाए गए सात दिवसीय एन.सी.सी. शिविर के पांचवे दिन फायर सेफ्टी के गुर सिखाने के साथ-साथ  प्राथमिक चिकित्सा की जानकारी दी गई।

शिविर के सफल आयोजन के लिए कॉलेज प्राचार्य डॉ. जगदीश गुप्ता ने कॉलेज एन.सी.सी. इकाई के समन्वयक डॉ.शिवनारायण व डॉ. विजय सिंह सहित अन्य स्टाफ सदस्यों को बधाई दी। उन्होंने सभी अतिथियों व कैडेट्स का आभार व्यक्त किया और कैडेट्स के उज्ज्वल भविष्य की कामना की।

शिविर में सोनीपत और पानीपत के 6 महाविद्यालयों के भाग ले रहे लगभग 600 एन.सी.सी. कैडेट्स ने फायर सेफ्टी के गुरु सिखने के साथ-साथ प्राथमिक चिकित्सा की जानकारी भी ली। इस दौरान केडेट्स को जानकारी दी गयी की किस तरह आग लगने की स्तिथि पर काबू पाया जा सकता है और जान-माल को बचाया जा सकता है।  शिविर में लैफ्टिनेट कर्नल अनुज मान व कमान अधिकारी कर्नल एस.के. सूद मौजूद रहे।  

लैफ्टिनेट कर्नल अनुज मान ने जानकारी देते हुए बताया कि इस एन.सी.सी. शिविर में ड्रिल, फील्ड क्राफ्ट, वेपन ट्रैनिंग, फायर सेफ्टी व मैप रीडिंग इत्यादि गतिविधियां को सिखाया जा रहा है, इन गतिविधियों से केडेट्स को नया  सीखने का अवसर मिला है।

प्राचार्य डॉ. जगदीश गुप्ता ने बताया की ऐसी  गतिविधियों से कैडेट्स के अंदर अनुशासन की भावना उत्पन्न होती हैं और नया सीखने का अवसर मिलता है और इस तरह के शिविरों के आयोजनों से कैडेट्स में अनुशासन व भाईचारे की भावना तो पैदा होती ही है।

उन्होंने बताया कि जिला रेडक्रॉस सोसाइटी की तरफ से प्रतिनिधि मैडम सोनिया ने प्राथमिक चिकित्सा के बारे गहनता से जानकारी दी, किसी भी प्रकार के एक्सीडेंट में यदि समय रहते प्राथमिक चिकित्सा मिल जाती है तो किसी भी मानव की जान को बचाया जा सकता है।

डॉ. शिव नारायण ने अपने संबोधन में कहा कि समय-समय पर इस तरह के शिविरों का आयोजन होते रहना चाहिए, हमारा हमेशा प्रयास रहता है कि शिविर के माध्यम से कुछ नया कैडेट को सिखाया जाए।

इस अवसर पर अधिकारी संजीव बंगा, लेफ्टिनेंट कर्नल अनुज मान, राजेश कुमार, सुरेश कुमार, सी.टी.ओ अर्चना, डॉ. शिव नारायण, एन.सी.ओ अनिल कुमार, शेर सिंह, लक्ष्मी नारायण, मंजीत सहित विभिन्न महाविद्यालयों के एन.सी.सी. अधिकारी व स्टाफ सदस्य मौजूद रहे। 

Comments