Friday, June 14, 2024
Newspaper and Magzine


कपड़े व टेक्सटाइल उत्पादों पर बढऩे वाले जीएसटी का हैंडलूम व्यापारियों ने किया विरोध


-पानीपत में एसडी कालेज रोड पर की विभिन्न हैंडलूम मार्किटों के प्रधानों ने बैठक

-सांसद संजय भाटिया से मिलकर लेंगे केंद्रीय मंत्री निर्मला सीतारमन से मिलने का समय

-हर प्रकार के कपड़े सहित सभी टेक्सटाइल उत्पादों पर 1 जनवरी से जीएसटी होगा 5 से बढकर 12 फीसदी

BOL PANIPAT , 4 दिसंबर। पानीपत शहर की विभिन्न हैंडलूम एसोसिएशनों की मीटिंग शनिवार को एसडी कालेज रोड पर हरियाणा व्यापार मंडल के युवा प्रदेशाध्यक्ष एवं पानीपत इंडस्ट्रियल एसोसिएशन के प्रधान राकेश चुघ की अध्यक्षता में एक शोरूम में हुई। जिसमें एसोसिएशनों के प्रधानों ने जीएसटी कौंसिल द्वारा हर प्रकार के कपड़े और टेक्सटाइल उत्पादों पर नव वर्ष पर 1 जनवरी से जीएसटी 5 से बढ़ाकर 12 प्रतिशत करने का कड़ा विरोध किया है।

बैठक में दी पानीपत हैंडलूम एसोसिएशन, एसडी कालेज रोड के प्रधान सुखदेव कालड़ा, गुरूनानक हैंडलूम मार्किट के प्रधान हरजिंद्र रिंकू, न्यू पानीपत हैंडलूम एसोसिएशन के प्रधान कालू सचदेवा व इंडस्ट्रियल वेलफैयर एसोसिएशन के प्रधान विरेंद्र चाहर आदि मौजूद रहे।  राकेश चुघ व अन्य प्रधानों ने संयुक्त रूप से कहा कि पानीपत के सभी हैंडलूम व्यापारी कपड़े  व टेक्सटाइल उत्पादों पर 5 फीसदी से 12 फीसदी जीएसटी बढ़ाने का विरोध करते है।

उन्होंने कहा कि वे इस मामले में जल्द ही सांसद संजय भाटिया से मिलकर अपनी समस्या से अवगत करवायेगे और सांसद के माध्यम से केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमन से मिलने का समय लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि कोरोना की पहली व इस वर्ष दूसरी लहर के चलते हैंडलूम व्यापारियों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा है। वहीं इस वर्ष दिवाली से पहले कच्चे माल के बहुत ज्यादा बढ़े भाव से हैंडलूम कारोबार भारी मंदी के दौर से गुजर रहा है।

उन्होंने कहा कि  हैंडलूम व्यापारियों का  ज्यादातर माल कई माह की उधार पर जाता है। सरकार ने अब कपड़े व हर टेक्सटाइल उत्पाद पर 1 जनवरी से जीएसटी बढ़ाकर व्यापारियों के हितों से कुठाराघात करने का काम किया है। उन्होंने कहा कि पानीपत के सभी हैंडलूम व्यापारी एकजुट होकर कपड़े व अन्य उत्पादों पर जीएसटी बढ़ाने का विरोध करेंगे।

Comments