Wednesday, June 12, 2024
Newspaper and Magzine


जिला पानीपत के विभिन्न 2 क्लस्टर में ऑनलाइन नशा मुक्ति जागरूकता कार्यक्रम आयोजित


-एडीजीपी श्रीकांत जाधव के दिशा-निर्देशों से किया गया जागरूक

BOL PANIPAT . हरियाणा स्वापक नियंत्रण ब्यूरो प्रमुख एवं अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक श्रीकांत जाधव साहब के दिशानिर्देशों से नशा मुक्त भारत अभियान के अंतर्गत हरियाणा स्वापक नियंत्रण ब्यूरो द्वारा जिला पानीपत के विभिन्न 2 क्लस्टर में ऑनलाइन नशा मुक्ति जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किया गया. ब्यूरो प्रमुख श्रीकांत जाधव साहब ने हरियाणा को नशा मुक्त करने के लिए वर्ष 1999 में बीड़ा उठाया था और अब स्वापक नियंत्रण ब्यूरो के प्रमुख के रूप में उन्होंने इस प्रांतीय स्तर पर जन जागृति का अभियान बना दिया है.

उनके आदेश से ही ब्यूरो के जागरूकता अभियान एवं पुनर्वास प्रभारी के रूप में नियुक्त उप निरीक्षक डॉ. अशोक कुमार वर्मा ने शिक्षकों को ऑनलाइन नशे के दुष्परिणामों से विस्तारपूर्वक अवगत किया. एडीजीपी जाधव के सन्देश को लेकर उप निरीक्षक डॉ. अशोक कुमार वर्मा ने ऑनलाइन शिक्षकों को जागरूक करते हुए कहा कि यद्यपि पुलिस प्रतिदिन अपराधियों को पकड़ कर सलाखों के पीछे भेज रही है और दूसरी और जागरूकता कार्यक्रमों के माध्यम से प्रत्येक नागरिक को नशे से दूर रहने के लिए जागरूक किया जा रहा है तथापि प्रत्येक व्यक्ति का कर्तव्य बनता है कि वे इसमें सहयोग करें क्योंकि जन सहयोग के बिना कार्य पूर्ण नहीं हो सकता.

उन्होंने कहा कि पुलिस जनता की सेवा सुरक्षा और सहयोग के लिए है और पुलिस के साथ मिलकर कार्य करने में कोई संकोच नहीं होना चाहिए. उन्होंने बताया कि भांग, अफीम, चरस, हेरोइन, गांजा, नशे की गोलियां, एवं नशे के टीके आदि का नशा युवाओं को भीतर ही भीतर खोखला कर रहा है जिसके परिणाम से ऐसा व्यक्ति अपने मस्तिष्क पर नियंत्रण नहीं रख पाता है.

उन्होंने हरियाणा की एनसीबी के हेल्पलाइन नंबर 9050891508 का वर्णन करते हुए कहा कि यह जनता की सुविधा के लिए जारी किया गया है ताकि गुप्त सूचनाओं के माध्यम से अपराधियों तक पहुंचा जा सके और नशा छोड़ने के इच्छुक व्यक्ति इसका लाभ उठा सके. अब तक ब्यूरो द्वारा 14 युवाओं को नशा मुक्ति केंद्र के माध्यम से नशा मुक्त किया जा चुका है.

Comments