Tuesday, April 16, 2024
Newspaper and Magzine


“वर्तमान युग में सड़क सुरक्षा और चुनौतियां” पर राष्ट्रीय वेबिनार का आयोजन

By LALIT SHARMA , in EDUCATIONAL , at January 13, 2022 Tags: , , , , ,

BOL PANIPAT :जी.टी रोड स्थित आई.बी (पी.जी) महाविद्यालय में आज दिनांक 13 जनवरी 2022 में मनाये जा रहे 33 वें सड़क सुरक्षा सप्ताह के तहत रोड सेफ्टी क्लब, एनएसएस, संस्कारशाला क्लब एवं एनसीसी द्वारा राष्ट्रीय वेबिनार का आयोजन किया गया जिसमें मुख्य वक्ता प्रो दलजीत कुमार, देश बंधु गुप्ता गवर्नमेंट कॉलेज पानीपत रहे। इस वेबिनार का मुख्य विषय “वर्तमान युग में सड़क सुरक्षा और चुनौतियां” रहा। वेबिनार के प्रारंभ में आई बी कॉलेज के प्राचार्य डॉ अजय कुमार गर्ग द्वारा मुख्य वक्ता को पौधा देखकर उनका स्वागत किया गया।

इस अवसर पर प्राचार्य डॉ अजय कुमार गर्ग ने कहा कि हम सभी को सड़क सुरक्षा का सख्ती से पालन करना चाहिए। उन्होंने यह भी कहा कि सड़क पर वाहन चलाते समय हेलमेट और सीट बेल्ट का प्रयोग करना बहुत आवश्यक है। इस वेबीनार का मुख्य उद्देश्य लोगों को यह बताना था कि सावधानी के साथ साथ हमें सड़क के नियमों का पालन करने के लिए भी जागरूक रहना चाहिए जिससे हम अपने जीवन को सुरक्षित बना सकते हैं।

मुख्य वक्ता प्रो. दलजीत कुमार द ग्रीन मैन ने कहा कि सबसे पहले हमें स्वयं से प्यार करना चाहिए और स्वयं के साथ-साथ अपने परिवार से भी बहुत प्यार करना चाहिए इसलिए परिवार का ध्यान रखते हुए हमें सड़क सुरक्षा के नियमो का अच्छी तरह से पालन करना चाहिए। वेबीनार के अंत में वाणी को विराम देते हुए प्रो दलजीत कुमार ने कहा कि सड़क का रंग काला होना चाहिए, लाल नहीं, सड़क वाहन के लिए बनी है खून के लिए नहीं।

इस वेबीनार का संचालन प्रो. रितू द्वारा किया गया। रोड सेफ्टी क्लब के संयोजक प्रो. पवन कुमार जी ने कहा कि आज की युवा पीढ़ी बहुत लापरवाही से वाहन चलाते हैं उन सभी को सड़क सुरक्षा का सख्ती से पालन करना चाहिए। एन एस एस अधिकारी डॉ जोगेश ने कहा कि इस दुनिया में हर साल सड़क दुर्घटनाओं में लाखों हर दिन लोगों की मौत हो जाती है।

आज के समय में सड़क दुर्घटना से हुई मौत गंभीर मामला बन गया है। एनसीसी संयोजक लेफ्टिनेंट राजेश कुमार जी ने कहा कि हम सभी को सड़क पर दो पहिया वाहन चलाते समय हेलमेट का प्रयोग करना चाहिए। संस्कारशाला क्लब के संयोजक प्रो. अश्विनी गुप्ता जी ने कहा कि हमें सड़क सुरक्षा के नियमों का अच्छे से पालन करना चाहिए ताकि सड़क दुर्घटनाओं से हुई मौत दर कम कर सकें।

इस वेबीनार में लगभग 110 विद्यार्थियों ने भाग लिया। इस अवसर पर प्रो. पीके नरुला, डॉ सुनीत शर्मा, प्रो नीतू, प्रो विनय भारती, प्रो रितु, प्रो सुखजिंदर सिंह, प्रो अंजली गुप्ता, अमित आदि मौजूद रहे।

Comments