Tuesday, April 16, 2024
Newspaper and Magzine


पानीपत जिला बार एसोसिएशन के प्रेसिडेंट के पद के प्रत्याशी राजेश शर्मा ने पत्रकार वार्ता का आयोजन किया

By LALIT SHARMA , in Elections , at December 13, 2021 Tags: , ,

BOL PANIPAT : पानीपत जिला बार एसोसिएशन के चुनाव आने वाले हैं. प्रत्याशी जोर शोर से चुनावों को लेकर तैयारियां कर रहे हैं. चुनाव को लेकर पानीपत जिला बार एसोसिएशन के प्रेसिडेंट के पद के प्रत्याशी राजेश शर्मा ने आज पत्रकार वार्ता का आयोजन किया. वार्ता के दौरान उन्होंने मीडिया के माध्यम से वकीलों को उन्हें वोट व स्पोर्ट करने की अपील करते हुए कहा यदि मुझे सब ने मिलकर एक बार मौका दिया तो मैं पूरी ईमानदारी से कार्य करूंगा. 21 साल से मैं पानीपत के कोर्ट में प्रैक्टिस करता हूं सभी वकील साथी मुझ से भलीभांति परिचित है. सभी वकीलों के साथ मेरा व्यवहार अच्छा है . 21 साल की प्रैक्टिस में मेरा किसी भी वकील साथी से कोई भी गिला शिकवा नहीं है. मेरी ईमानदारी और मेरे व्यवहार को ध्यान में रखकर उम्मीद है कि सभी वकील साथी मुझे वोट देंगे.
पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए उन्होंने कहा इस वक्त वकीलों की सबसे बड़ी समस्या है बिजली का मुद्दा है। यह मुद्दा इलेक्ट्रॉनिक व प्रिंट मीडिया के माध्यम से जगजाहिर हो चुका है। सभी वकील साथियों के आशीर्वाद से यदि मैं प्रधान बना तो सबसे पहले इस मुद्दे को खत्म करने के लिए इसका हल किया जायेगा। बकाया बिल जमा करवाने के पश्चात सभी वकीलों के चैंबर में बिजली विभाग से एनओसी ले कर अलग-अलग मीटर लगवाने की व्यवस्था की जाएगी। उन्होंने कहा कि पानीपत में 138 धारा के अंतर्गत चेक बाउंस के केसों की सुनवाई में लंबी-लंबी डेट लगती हैं इस समस्या के समाधान के लिए वे हाई कोर्ट के इंस्पेक्टिंग जज से मिलकर यहां चेक बाउंस के केस के लिए दो और कोर्ट बनाने की अपील करेंगे। उन्होंने बताया की उनका विचार है की वकील साथियों के लिए एक उम्दा किस्म की कैंटीन की व्यवस्था भी की जाए। महिला वकीलों टॉयलेट की समस्या को भी नजरअंदाज नहीं किया जा सकता। यदि मैं चुनाव जीता तो महिला वकील साथियों के लिए साफ-सुथरे टॉयलेट की व्यवस्था की जाएगी। बार की लाइब्रेरी को भी अपडेट किया जाएगा। लाइब्रेरी में किताबों और जर्नल्स की कमी को पूरा किया जाएगा और ऑनलाइन व्यवस्था भी की जाएगी। उन्होंने कहा कि पिछले कुछ सालों में पानीपत में वकीलों की संख्या में भी इजाफा हुआ है और मुकदमा लड़ने आने वाले लोगों की संख्या में भी काफी इजाफा हुआ है मगर पार्किंग ज्यों की त्यों है यदि वह जीत कर आते हैं तो पार्किंग की उचित व्यवस्था करवाएंगे।
आपको बता दें कि प्रेजिडेंट पद के लिए राजेश शर्मा के अतिरिक्त दो अन्य कैंडिडेट भी चुनाव मैदान में है और राजेश शर्मा उनसे सिनीयर भी हैं। राजेश शर्मा का कहना है कि वे सभी वकील साथियों के सुख दुख में हमेशा शामिल रहे हैं और अपने व्यवहार के दम पर वोट मांग रहे हैं।

Comments