Tuesday, April 16, 2024
Newspaper and Magzine


शराब फैक्टरी के वाईस प्रेजिडेंट से एक लाख रूपये प्रतिमाह रंगदारी वसूलने के मामले में पांचवे आरोपित को काबू किया।

By LALIT SHARMA , in Crime in Panipat , at December 2, 2021 Tags: , , , , ,

BOL PANIPAT : 2 दिसम्बर 2021, शराब फैक्टरी के वाईस प्रेजिडेंट से एक लाख रूपये प्रतिमाह रंगदारी वसूलने के मामले में पांचवे आरोपित अनुज उर्फ जोनू निवासी गांधी कालोनी समालखा को पुलिस ने काबू किया।उक्त मामलें में चार आरोपित रवि उर्फ कमांडो, राजन उर्फ मन्त्री, विक्रम उर्फ विक्की व अंकुश उर्फ बंटी को पहले ही गिरफ्तार कर वारदात में प्रयोग की अवैध देशी पिस्तोल, एक डोगा दुनाली व 35 हजार रुपये बरामद कर आरोपितों को जेल भेजा जा चुका है।

पुलिस रिमांड के दौरान खुलासा हुआ था कि क्षेत्र मे अपना वर्चस्व स्थापित करने के लिए आरोपितो ने वारदात को अंजाम दिया था।सीआईए-थ्री प्रभारी इंस्पेक्टर अनिल छिल्लर ने बताया आरोपितों ने 5 मई को समालखा चुलकाना रोड़ पर स्थित शराब फैक्टरी हरियाणा ऑर्गेनिक के वाईस प्रेजिडेंट अक्षय रलहन को फैक्टरी के अंदर उसके कार्यालय मे घूसकर एक लाख रूपये प्रति महिना रंगदारी मांगने ना देने पर जांन से मारने की धमकी देने की वारदात को अजाम दिया था। वारदात बारे अक्षय रलहन ने थाना समालखा में शिकायत देकर बताया था की वह 5मई को शराब फैक्टरी में स्थित अपने कार्यालय मे बैठा हुआ था। रवि उर्फ कमांडो अपने 4/5 साथियों के साथ कार मे सवार हो फैक्टरी में आया और साथियों सहित कार्यालय मे घुसकर एक लाख प्रति महिने रंगदारी मांगते हुए ना देने पर जान से मारने की धमकी देने लगा। रवि उर्फ कमांडो ने जेब से पिस्तौल निकाल उसके मुह मे डाली और कहा एक लाख रुपए अभी दो नही तो गोली मार दूंगा। उसने जांन बचाने के लिए दराज से एक लाख रुपये निकालकर रवि उर्फ कमांडो को दे दिए। आरोपी ने जाते हुए धमकी दी की प्रत्येक महिने की 1तारीख को फोन करते ही पैसे मिल जाने चाहिए साथ ही पुलिस को सूचना देने पर जान से मारने की धमकी देते हुए वहा चले गए। आरोपित रवि उर्फ कमांडो ने 1 जून को फिर से फोन कर महिना पूरा होने की बात कहते हुए एक लाख रुपये की रंगदारी मांगी। उसने असमर्थता जाहिर की तो आरोपी बार-बार उसको अलग-अलग नंबरो से फोन कर जान से मारने की धमकी देने लगा। वाईस प्रेजिडेंट अक्षय रहलन की शिकायत पर आरोपित रवि उर्फ कमांडो व उसके साथियों के खिलाफ थाना समालखा मे जबरन वसूली व अवैध हथियार रखने की विभिन्न धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज कर कानूनी कार्रवाई अमल मे लाई गई थी।

उक्त मामला पुलिस अधीक्षक श्री शशांक कुमार सावन जी के संज्ञान मे आते ही उन्होंने सीआईए-थ्री पुलिस टीम को आरोपितों को जल्द से जल्द काबू करने की विशेष जिम्मेवारी सौंपी गई थी। सीआईए-थ्री की टीम ने आरोपितों के संभावित ठिकानों पर लगातार दंबिस देते हुए 26 जून को रेलवे स्टेशन समालखा के सामने से आरोपित रवि उर्फ कमांडो व उसके साथी राजन उर्फ मन्त्री निवासी नगंला पार व विक्रम उर्फ विक्की निवासी चमराड़ा हाल दुर्गा कालोनी समालखा पानीपत को वारदात मे प्रयोग की गई स्कोडा कार सहित काबू कर पुलिस रिमांड के दोरान आरोपितो के कब्जे से वारदात मे प्रयोग की गई एक देशी पिस्तोल 32 बौर, एक डोगा दुनाली व 35 हजार रुपये बरामद होने पर आरोपियो को माननीय न्यायालय मे पेश कर जेल भेजा गया था। इसके कुछ दिन बाद वारदात मे संलिप्त आरोपित अंकुश उर्फ बंटी पुत्र ईशवर निवासी चुलकाना गिरफतार कर जेल भेजा गया।

इंस्पेक्टर अनिल छिल्लर ने बताया वारदात में संलिप्त आरोपित अनुज उर्फ जोनू पुत्र जगदीश निवासी गांधी कालोनी समालखा वारदात के बाद से ही फरार चल रहा था । आरोपित अनुज को पकड़ने के लिए पुलिस टीम उसके संभावित ठिकानो पर दंबिस दे रही थी परंतु आरोपित ठिकाने बदल-बदल कर रह रहा था। बुधवार को सीआईए-थ्री पुलिस की टीम ने गुप्त सूचना के आधार पर कार्रवाही करते हुए आरोपित अनुज को गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल की। पुलिस टीम ने गहनता से पुछताछ उपरांत आरोपित अनुज को माननीय न्यायालय मे पेश कर न्यायिक हिरासत जेल भेजा ।

Comments