Sunday, March 3, 2024
Newspaper and Magzine


सात वर्षीय मासूम बच्ची के ब्लाईड मर्डर की वारदात का पर्दाफ़ाश, आरोपित को पुलिस ने किया काबू

By LALIT SHARMA , in Crime in Panipat , at December 21, 2021 Tags: , , , , ,

BOL PANIPAT : 21 दिसम्बर 2021, सात वर्षीय मासूम बच्ची के ब्लाईड मर्डर की वारदात का पर्दाफ़ाश करते हुए पुलिस ने आरोपित को किया काबू। आरोपित की पहचान प्रवीन निवासी मनाना समालखा के रूप में हुई। पुलिस अधीक्षक श्री शशांक कुमार सावन ने कहा की पुलिस मामलें को फास्ट ट्रेक कोर्ट में लेकर जाएगी और आरोपित को जल्द से जल्द कड़ी सजा दिलवाई जाएगी।

पुलिस अधीक्षक श्री शशांक कुमार सावन ने लघु सचिवालय के तृतीय तल पर स्थित पुलिस विभाग के सभागार में प्रेसवार्ता कर जानकारी देते हुए बताया कि समालखा के मनाना में सात वर्षीय मासूम बच्ची के ब्लाईड मर्डर की वारदात का पर्दाफ़ाश करते हुए एसआईटी टीम ने आरोपित को काबू करने में बड़ी कामयाबी हासिल की।

उन्होंने बताया आरोपितों की पहचान व काबू करने के लिए आरोपियों की सूचना देने पर रखी गई 50हजार की ईनाम राशि को बढाकर गत दिनों 2 लाख रूपए करने के साथ ही एएसपी पूजा वशिष्ट के नेत्रत्व में एसआईटी गठित की गई थी। टीम विभिन्न पहलूओं पर गहनता से जांच करते हुए आरोपित की पहचान करने के लिए सघन पर्यासरत थी। पुलिस टीम ने बारीक से बारीक पहलू पर जांच करते हुए मंगलवार को आरोपित को काबू कर गहनता से पूछताछ की तो आरोपित ने वारदात को अंजाम देने बारे स्वीकारा। पकड़े गए आरोपित की पहचान प्रवीन पुत्र कृष्ण निवासी मनाना समालखा के रूप में हुई।

आरोपित से की गई प्रारंम्भिक पुलिस पुछताछ में खुलासा हुआ की आरोपित भंडारे के पास से 7 वर्षीय बच्ची को बहला फुसलाकर पावर हाउस के पास झाड़ियों में ले गया। आरोपित ने व वहां  पर बच्ची से दुष्कर्म करने का प्रयास किया तो बच्ची सहायता के लिए चिल्लाने लगी . पकड़े जाने के डर से आरोपित ने बच्ची का मुहँ व गला दबाकर मारने की कोशिश परंतु बच्ची बेहोश हो गई। आरोपित ने इसके बाद पास में पड़ी ईट से बच्ची के सिर पर एक के बाद कई वार कर बच्ची की हत्या कर वहां से निकल गया।

आरोपित इस प्रकार पुलिस पकड़ में आया :-

पुलिस की विभिन्न टीमें, गाव वासी व परिजन बच्ची को आस-पास के क्षेत्र में तलाश कर रहे थे। आरोपित प्रवीन ने झाडियों मे शव के देखने बारे सबसे पहले सूचना दी इसके बाद आरोपित फरार हो गया। पुलिस टीम ने लगातार कई दिन अलग-अलग एंगल से मामले की जाच करते हुए मंलवार को आरोपित को काबू कर गहनता से पुछताछ की तो आरोपित ने वारदात कों अंजाम देने बारे स्वीकारा। गहनता से पुछताछ करने के लिए आरोपित को बुधवार को माननीय न्यायालय में पेश कर पुलिस रिमांड लिया जाएगा।

थाना समालखा में मनाना निवासी युवक ने अपनी सात वर्षीय बच्ची के गुमशुदा होने बारे गत सोमवार को शिकायत देकर बताया था की गांव के कंडी माता मंदिर में रविवार को मूर्ति स्थापना कार्यक्रम था। जिसमें वह अपने परिवार के साथ गया था और सात वर्षीय बच्ची भी साथ थी। कुछ देर बाद वो वापिस आ गए। लेकिन उसकी बच्ची वापिस नहीं आई। उन्होंने सोचा कि वह अन्य बच्चों के साथ होगी। लेकिन शाम चार बजे तक भी वापिस नहीं आई तो बच्ची की विभिन्न स्थानों पर तलाश की गई परंतु अभी तक कही नही मिली।

थाना समालखा पुलिस ने तुरंत मुकदमा दर्ज कर बच्ची की तलाश शुरू कर दी गई थी। मामला पुलिस अधीक्षक श्री शशांक कुमार सावन के संज्ञान में आते ही उन्होंने थाना समालखा पुलिस के अतिरिक्त सीआईए-वन टीम को बच्ची को तलाशने की जिम्मेवारी सौंपी थी।

मासूम बच्ची का गत मंगलवार को गांव के ही पावर हाउस के सामने झाड़ियों में शव मिला था। सूचना मिलते ही पुलिस अधीक्षक श्री शशांक कुमार सावन ने तुरंत मौके पर पहुंच वारदात स्थल का निरीक्षण कर मामले को गंभीरता लेते हुए आरोपितों की सूचना देने पर 50 हजार रूपए का ईनाम रखने के साथ ही सीआईए की तीनों टीमों के अतिरिक्त कई टीमें गठित कर आरोपियों की तलाश में लगा दी गई थी। साथ ही पहले से दर्ज मामले में हत्या की घारा इजाद की गई थी।

पुलिस अधीक्षक श्री शशांक कुमार सावन ने रविवार को दौबारा से वारदात स्थल का निरिक्षण कर आरोपित की पहचान करने व जल्द से जल्द पकड़ने के लिए सहायक पुलिस अधीक्षक श्रीमति पूजा वशिष्ट के नेतृत्व में एसआईटी गठित कर जिसमें महिला विरूध अपराध डीएसपी श्री प्रदीप कुमार, तीनों सीआईए इंचार्ज, समालखा थाना प्रभारी इंस्पेक्टर नरेंद्र व फॉरेंसिक टीम इंचार्ज डॉ नीलम आर्य को शामिल किया गया था। साथ ही आरोपित की सूचना देने पर रखी 50हजार की ईनाम राशि को बढाकर 2 लाख रूपये किया गया था।

Comments