Friday, July 19, 2024
Newspaper and Magzine


मलेरिया/डेंगू/ चिकनगुनिया को लेकर प्रशासन चलायेगा जागरूकता अभियान

By LALIT SHARMA , in DIPRO PANIPAT PRESS RELEASE HEALTH , at May 13, 2024 Tags: , , , , ,

-हर विभाग में होंगे नोडल अधिकारी नियुक्त

BOL PANIPAT , 13 मई। उपायुक्त वीरेन्द्र कुमार दहिया ने जिला सचिवालय के प्रथम तल पर स्थित सभागार में गर्मी के मौसम में मच्छरों से फैलने वाली बीमारियों के बचाव को लेकर समीक्षा बैठक कर जरूरी दिशानिर्देश दिए। उन्होंने कहा कि गर्मी के मौसम में फैलने वाली बीमारियो को लेकर प्रशासन पूरी तरह से अलर्ट है। सभी प्रकार की जरूरी तैयारियां की जा रही है ताकि इन बीमारियों से बचाव किया जा सके। उपायुक्त ने बताया कि गर्मी के मौसम में मलेरिया, डेंगू, चिकनगुनिया व कई तरह की बीमारियों के फैलने की संभावना बढ़ जाती है। इसको लेकर हमें व्यापक स्तर पर कार्यवाही करने की आवश्यकता है। विभिन्न विभागों के सहयोग से मलेरिया के सम्भावित स्थानों पर फोगिंग भी की जाएगी।
उपायुक्त ने स्वास्थ्य और अन्य विभागों के अधिकारियों को दिशानिर्देश देते हुए कहा कि सभी विभागों में एक-एक नोडल अधिकारी नियुक्त करें व शुक्रवार को कार्यालय में मच्छरों के पनपने वाले स्थानों की साफ-सफाई करें, जैसे कि कूलरों में पानी को बदले। उन्होंने कहा कि मलेरिया व डेंगू जैसी खतरनाक बीमारी को लेकर शिक्षा विभाग स्कूलों में प्रार्थना के दौरान बच्चों को इस बीमारी के फैलने के प्रति जागरूक करें।
उन्होंने ग्रामवासियों से अपील की कि प्रत्येक रविवार को ग्रामीण स्तर पर अपने घर पर सूखा दिवस मनाएं। पानी के बर्तन, कूलर, फूलदान, हौदी आदि को खाली करें तथा सूखाकर ही पानी भरें। पानी के बर्तनों व टंकियों इत्यादि को पूरी तरह ढककर रखें। छत पर पड़े मटके, टायर, बोतल तथा अन्य टूटे-फूटे बर्तनों को हटा दें ताकि इनमें बरसात का पानी जमा ना हो क्योंकि मच्छर जमा पानी में पैदा होता है। उन्होंने बताया कि इन बीमारियों से बचाव को लेकर अपने आसपास पानी न भरा रहने दें। सोते समय मच्छरदानी का प्रयोग अवश्य करें। बुखार आने पर नजदीकी स्वास्थ्य केन्द्र में जाकर खून की मुफ्ïत जांच करवाए।
सीएमओ डॉ. जयंत आहूजा ने बैठक में डेंगू बुखार के लक्षणों पर प्रकाश डालते हुए कहा कि अचानक तेज बुखार होना। छाती व ऊपर के हिस्से में दानों का निकलना, सिर के आगे वाले हिस्से में जोर का दर्द, भूख ना लगना, जोड़ों में दर्द इत्यादि कई लक्षण डेंगू के हैं। उन्होंने मलेरिया बुखार के लक्षणों पर भी जानकारी दी। उन्होंने बताया कि कोई भी बुखार मलेरिया हो सकता है। ठण्ड लगकर बुखार आना, शरीर में दर्द, सिरदर्द, उल्टी भी बुखार के लक्षण हैं। उन्होंने चिकनगुनिया के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि तेज बुखार के साथ मासपेशियों तथा जोड़ों में दर्द, भूख कम लगना, कमजोरी और जी घबराना चिकनगुनिया के लक्षण हैं। जिला स्तरीय मलेरिया उन्मूलन समिति की बैठक में नोडल अधिकारी डॉ. सुनील संदूजा ने बैठक से सम्बंधित सभी बिन्दूओं को उपायुक्त के समक्ष रखा।

Comments