Monday, February 26, 2024
Newspaper and Magzine


व्यापारी राजकुमार की हत्या के मामले में गिरफ्तार तीनों आरोपियों को न्यायिक हिरासत भेजा गया

By LALIT SHARMA , in Crime in Panipat , at January 18, 2022 Tags: , , , , ,

BOL PANIPAT : 18 जनवरी 2022, व्यापारी राजकुमार की हत्या के मामले में गिरफ्तार तीनों आरोपियों को 5 दिन की रिमाड अवधि पूरी होने पर आज माननीय न्यायालय में पेश कर न्यायिक हिरासत जेल भेजा गया। लूटी गई नगदी में से बची साढ़े 10 हजार रूपए की नगदी आरोपियो से बरामद।

सीआईए-वन प्रभारी इंस्पेक्टर राजपाल सिंह ने बताया 4जनवरी की साय समालखा में माता पुली रोड पर समालखा निवासी व्यापारी राजकुमार की लूट के बाद हत्या कर दी गई थी। पुलिस अधीक्षक शशांक कुमार सावन के संज्ञान में उक्त मामला आते ही उन्होने मामले को गम्भीरता से लेते हुए स्वयं देर रात वारदात स्थल का जायजा लेकर आरोपियों को जल्द से जल्द काबू करने की जिम्मेवारी सीआईए-वन पुलिस की टीम को सौपी थी। सीआईए-वन पुलिस की टीम ने तुरंत वारदात स्थल के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरा में कैद फुटेज को खंगालते हुए विभिन्न पहलुओ पर गहनता से छानबीन करते हुए 12जनवरी की साय गांव पावटी के पास खदानों से आरोपी प्रशांत पुत्र सुभाष निवासी पंचवटी कॉलोनी, वंश उर्फ विशु पुत्र सुनील कुमार निवासी मातापूली रोड व अंशुल पुत्र बलबीर निवासी शास्त्री कॉलोनी भापरा रोड समालखा को काबू कर गहनता से पुछताछ की तो आरोपियों ने साथी दीपक उर्फ कुकु पुत्र सुलतान निवासी आट्टा के साथ मिलकर रैकी कर उक्त वारदात को अंजाम देने बारे स्वीकारा।

आरोपियों से की गई प्रारंम्भिक पुछताछ में सामने आया था कि आरोपी वंश का मृतक राजकुमार के घर आना जाना था। वंश को पता था की राजकुमार साय के समय मार्केट से पेमेंट इक्कठी कर घर लेकर आता है। आरोपियों ने दोस्त दीपक उर्फ कुकु को इसके बारे में जानकारी दे लूट की योजना बनाकर 4 जनवरी की साय वारदात को अंजाम दिया।

आरोपी वंश व अंशुल ने मिलकर वारदात से पहले आस पास के क्षेत्र की रेकी की। इसी दौरान अंशुल ने फोन कर दीपक को राजकुमार के बाजार से पैदल निकलने बारे जानकारी दी। आरोपी प्रशांत, दीपक को अपनी बाइक पर बैठाकर लाया और माता पुलियां के पास दीपक को बाइक से उतार दिया। दीपक पैदल व प्रशांत बाइक पर कुछ दूर राजकुमार के पीछे-पीछे चले। दीपक राजकुमार से पैसों से भरा बैग छीनने लगा तो राजकुमार ने इसका विरोध किया तो दीपक ने राजकुमार को पिस्तौल से गोली मार दी और पैसों से भरा बैग छीनकर प्रशांत के साथ बाइक पर बैठ फरार हो गया।

इंस्पेक्टर राजपाल सिंह ने बताया वारदात में संलिप्त फरार आरोपी दीपक के ठिकानों का पता लगा काबू करने के लिए पुलिस टीम ने गिरफतार तीनो आरोपियों को माननीय न्यायालय से 5 दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया था। आरोपियों से रिमांड के दोरान पुलिस पुछताछ मे खुलासा हुआ की वारदात के बाद लूटी गई नगदी में दीपक ने वंश व अंशुल को 5-5 हजार व प्रशांत को 10 हजार रूपए दिए थे। तीनो आरोपियों ने कछ पैसे खाने पीने मे खर्च कर दिए। आरोपी वशं के कब्जे से 4 हजार, अंशुल से साढे 3 हजार व प्रशांत से 3 हजार रूपये कुल साढे 10 हजार रूपए, वारदात में प्रयोग तीन मोबाइल फोन मृतक राजकुमार का पैन कार्ड व ड्राईविंग लाइसेंस बरामद कर रिमांड अवधी पूरी होने पर तीनो आरोपियों को आज माननीय न्यायालय में पेश कर न्यायिक हिरासत जेल भेजा गया।
वारदात में शामिल इनका साथी दीपक उर्फ कुकु पुत्र सुलतान निवासी आट्टा समालखा अभी फरार चल रहा है। आरोपी को पकड़ने के लिए पुलिस की टीम प्रयासरत है। वही आरोपी की सूचना देने पर 1लाख रूपए का इनाम घोषित है।

इंस्पेक्टर राजपाल सिंह ने बताया प्रारंम्भिक अनुसंधान के दौरान आरोपी दीपक उर्फ कुकु का पहले भी अपराधिक रिकार्ड होना पाया गया। आरोपी दीपक पर वर्ष 2021 अक्तुबर में सोनीपत के गोहाना सदर थाना में डबल मर्डर की एक वारदात का मुकदमा दर्ज है। उक्त वारदात में इनका एक साथी नवीन उर्फ छोटा निवासी भैसवाल को गोहाना सदर थाना पुलिस द्वारा गिरफतार किया जा चुका है। आरोपी दीपक उस मुकदमें मे भी फरार चल रहा है।

वारदात का विवरण :

थाना समालखा में चिराग पुत्र राजकुमार निवासी माता पुली रोड़ समालखा ने मंगलवार 4 जनवरी को शिकायत देकर बताया की उसके पिता राजकुमार का समालखा में घी, तेल का थोक का कारोबार है। रोजाना की तरह मार्केट से पेमेंट इक्कठी कर उसके पिता मंगलवार साय घर लौट रहे थे। घर के नजदीक पहुंचने पर अज्ञात व्यक्तियों ने पिस्तौल से गौली मार पैसो से भरा बैग व मोबाइल छिनकर फरार हो गए। सूचना मिलने पर वह तुरंत मौके पर पहुंचे और खुन से लथप पिता को हस्पताल लेकर गए तो डॉक्टरों ने उसके पिता को मृत घोषित कर दिया। चिराग की शिकायत पर थाना समालखा में अज्ञात आरोपियों के खिलाफ हत्या कि विभिन्न धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज कर पुलिस ने आरोपितयों की तलाश शुरू कर दी गई थी। मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस अधीक्षक श्री शशांक कुमार सावन जी ने वारदात की साय ही मौका-मुआयना कर आरोपियों को जल्द से जल्द काबु करने के लिए सीसीटीवी फुटेज जारी कर आरोपियों पर 1लाख का इनाम घोषित किया था।

Comments